??❤?? *आज़ के दिन…* *प्रोमिस देता हूं* सदा *वफ़ादारी का,* सदा *ख़ुश रखने का,* सदा *साथ निभाने का,* *सदा मस्ती से भरा औऱ* *ख़ुशहाल जीवन देंने का* *॥ हेप्पी प्रॉमिस डे॥* ??❤?? *Good Morning* ??????????




?सुन पगली….!!!
मेरी चाहत की क़सम,
मेरे दिल की क़सम,
और चाँद तारो की क़सम,
में तुम्हें चाहोंगा जन्म जन्म…!
Love you….on these
?Happy Promise Day?



??❤??????
कहूँ खुदा से क्या मैं आपके वास्ते … ज़िन्दगी की सारी बहार मिले आपके रास्ते … ये वादा रहा हमारा आपसे …. कभी जुदा ना होंगे हम आपसे Happy Promise Day!
??❤??????






आप खुद नही?जानते आप कितने?प्यारे हो !
जान हो मेरी?पर मेरी जान से भी?प्यारे हो !
दूरियां होने से☝कोई फर्क नहीं ?पड़ता बाबू “
आप कल भी?हमारे थे और आज?भी हमारे हो..
??????



दौलत नहीं ,
शोहरत नहीं ,,
न वाह-वाह चाहिए…!!
कैसे हो ,
कहाँ हो ,,
बस दो लफ़्जों की ,,,
परवाह चाहिए…..!!!
?????????


?????????
? *नज़रें मिलते ही ? दिल लगाया नहीं जाता, हर मिलने वाले को अपना बनाया नहीं जाता, और जो दिल ? में बस जाये एकबार, उन्हें उम्रभर भुलाया नहीं जाता



दोस्ती का रिश्ता दो अंजानो को जोड देता है
हर कदम पर जिन्दगी को नया मोड देता है
सच्चा दोस्त साथ देता है तब
जब अपना साया भी साथ छोड देता है.
???????






“मेरा promise hai babu”
“Waqt acha ho ya बुरा”
“हमेशा आप के साथ rahunga”
“love you Forever”
“Happy Promise Day”


??????????????


❤??????❤
वादा ना करो अगर तुम निभा न सको.. चाहो न उसको जिसे तुम पा न सको.. दोस्त तो दुनिया में बहुत होते हैं.. पर एक ख़ास रखो जिसके बिना तुम मुस्करा न सको।
Happy Promise Day
❤??????❤


???????
ना करो वो वादा जो पूरा ना हो सके,
ना चाहो उसे जिसे पा ना सको,
प्यार कहा किसीका पूरा होता है,
पहेला प्यार अकशर अधुरा ही होता है!!!!
???????






???????
कर्म तेरे अच्छे हे तो
किस्मत तेरी दासी है!
नियत तेरी अच्छी है तो
घर तेरा मथुरा कशी है!
???????

मोहब्बत तो आज भी उतनी ही है तुमसे,
ये बात और है की,
अब उम्मीद कुछ भी नहीं..
?????
♥♥♥







रुक रुक के उनके साथ हमें एक चाहत सी हो गयी,
बात करते करते हमें उनकी आदत सी हो गयी,
उनसे मिल ने के लिए एक बैचनी सी रहती हे,
न जाने दोस्ती निभाते निभाते हमें मोहब्बत सी हो गयी.
❤❤❤❤

???????
कोई खुशियों की चाह में रोया
कोई दुखों की पनाह में रोया..
अजीब सिलसिला हैं ये ज़िंदगी का..
कोई भरोसे के लिए रोया..
कोई भरोसा कर के रोया..
???????


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: