हम ने कब माँगा है तुम से अपनी वफ़ाओं का सिला, बस दर्द देते रहा करो

मंजिले मुशिकले थी पर हम खोये नही थें.
दर्द था दिल मे पर रोये नही थे,
कोई नही आज हमारा जो हमसे पुछे
जाग रहे हो या किसी के लिये सोये नही

मैं इस काबिल तो नहीं की कोई मुझे अपना समझे मगर इतना यकीन है कि कोई अफसोस जरूर करेगा मुझे खो देने के बाद



चलो फिर से दोहराते हैं अपनी
मोहब्बत कि कहानी
मै तुम्हे बेपनाह चाहुगा और तुम
मुझे बे वजह छोड जाना




चलो फिर से दोहराते हैं अपनी
मोहब्बत कि कहानी
मै तुम्हे बेपनाह चाहुगा और तुम
मुझे बे वजह छोड जाना


तकलीफ ये नही की किस्मत ने मुझे धोखा दिया,
मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नही




मंजिले मुशिकले थी पर हम खोये नही थें.
दर्द था दिल मे पर रोये नही थे,
कोई नही आज हमारा जो हमसे पुछे
जाग रहे हो या किसी के लिये सोये नही


मोहब्त सब ने देखी है किसी ने फल नही देखा
बिगड़ जाते है जिस पल मे बो आता पल नही देखा
गुजर गई रात महलो मे जमी पर पल नही देख
सभी ने आज देखी है मगर किसी ने कल नही देखा





तुम क्या जानो प्यार किसी का तुम्हें तो खेलना आता है किसी के जजबातो के साथ ।
घुट घुट कर तो हम मर रहे यहं जिसने कसम खाई थी तुम्हें पाने की अरमानो के साथ





वक़्त ने हमें भुला दिया है,कहीं मुकद्दर भी ना भुला दे।।
प्यार हम इसलिए नहीं करते कहीं फिर से हमें कोई ना रुला दे।।





अभी सूरज हुआ नही जरा-सी शाम तो होने दो
मै खुद लौट जाऊंगा जरा नाकाम तो होने दो
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूढना है जमाना
मै खुद हो जाऊँगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने दो



हर कर्ज मोहब्बत का अदा करेगा कौन,
जब हम नहीं होंगे तो वफ़ा करेगा कौन,
या रब मेरे मेहबूब को रखना तू सलामत,
वर्ना मेरे जीने की दुआ करेगा कौन?




दर्द जितना था जिंदगी में की धड़कन साथ देने से घबरा गई आंख बंद थी किसी की याद में और मौत तो धोखा खा गयी





जब मिलो किसी से
तो जरा दूर का रिश्ता रखना
बहुत तड़पते हैं
अक्सर दिल से लगाने बाले
Tute huye dil ne bhi uske liye duaa mangi
Meri sanso ne har pal uski khushi mangi
Na jane kaisi dilagi thi us bewafa se ki maine
Aakhari khawais main bhi unki wafa mangi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *