आंखे कितनी भी छोटी क्यो ना हो !! ताकत तो उसमे सारा आसमान देखने की होती है ज़िन्दगी एक हसीन ख़्वाब है ,, ,, जिसमें जीने की चाहत होनी चाहिये ग़म खुद ही ख़ुशी में बदल जायेंगे सिर्फ मुस्कुराने की आदत होनी चाहिये !! ??????????? ??सुप्रभात ?? आप का दिन शुभ व मंगलमय हो ??????




???????????
आंखे कितनी भी छोटी क्यो ना हो !!
ताकत तो उसमे सारा
आसमान देखने
की होती है
ज़िन्दगी एक हसीन
ख़्वाब है ,, ,, जिसमें जीने
की चाहत होनी चाहिये
ग़म खुद ही ख़ुशी
में बदल जायेंगे
सिर्फ
मुस्कुराने
की
आदत
होनी चाहिये !!
???????????
??सुप्रभात ??
आप का दिन शुभ व मंगलमय हो
??????


⚡⚡?⛈??☁⚡⚡
?शुभ प्रभात?
?????????
कर्मों की आवाज़
शब्दों से भी ऊँची होती है…!
“दूसरों को नसीहत देना
तथा आलोचना करना
सबसे आसान काम है।
सबसे मुश्किल काम है
चुप रहना और
आलोचना सुनना…!!”
यह आवश्यक नहीं कि
हर लड़ाई जीती ही जाए।
आवश्यक तो यह है कि
हर हार से कुछ सीखा जाए
?मंगलमय सुबह?
?सुप्रभात?
?????????



??????????????? “दुनिया का सबसे अच्छा तोहफा “वक्त” है।
                क्योंकी,
जब आप किसीको अपना वक्त देतें है,
तो आप उसे अपनी “जिंदगी” का वह पल देतें हैं,
जो कभी लौटकर नहीं आता…
???????????????
? सुप्रभात??राधो कृष्णा
?????????


?? *‌?‌?‌?‌?‌?‌?‌? ‌?‌?‌?‌? *?? ????????
जो सफर की
शुरुआत करते हैं,
वे मंजिल भी पा लेते हैं.
बस,
एक बार चलने का
हौसला रखना जरुरी है.
क्योंकि,
अच्छे इंसानों का तो
रास्ते भी इन्तजार करते हैं..
??? सुप्रभात???
?? *‌?‌?‌?‌? ?‌?‌?‌?‌?‌?‌? *??
☕☕☕☕☕☕☕



?????????
लक्ष्मी पुजे धन मिले , गुरू को पुजे ज्ञान !
माँ -बाप को पुजे सब मिले , हो जाए कल्याण !!
माँ वह रोशनी है जो घर पर साथ रह कर रास्ता दिखाती है ! पिता वह प्रकाश है जो दुर रह कर भी अनुशासन सिखाता है !!
????जय श्री RAM?????
???शुभप्रभात???



┳╱┳
┣━┫α ρ ρ у
┻╱┻
ℳỖŘŇĮŇĞ
"दुआ" मिले "बड़ो" से "साथ" मिले" अपनों" से "खुशिया" मिले "जग" से "रहमत" मिले "रब" से "प्यार" मिले "सबसे" यही "दुआ" है रब से सब खुश रहे आपसे और.. आप खुश रहे "सबसे" ₲๑๑δ ? ℳ๑яทïทg..? ,•’``’•,•’``’•, ’•,? ☆ ,* `’•,,•`’


लोग बुरे नहीं होते….
बस जब आपके मतलब के नहीं होते…
तो बुरे लगने लगते है…।।
समझनी है जिंदगी तो पीछे देखो
जीनी है जिंदगी को तो आगे देखो
हम भी वहीं होते है
रिश्ते भी वहीं होते हैं
और रास्ते भी वहीं होते हैं
बदलता है तो बस…..
समय,एहसास और नजरिया…।।
☘☘सुप्रभात☘☘
???????????



?डाली से टूटा फूल फिर से?
लग नहीं सकता है?
?मगर?
डाली मजबूत हो तो उस पर ?
नया फूल खिल सकता है?
उसी तरह ज़िन्दगी में?
खोये पल को ला नहीं सकते?
? मगर?
हौसलें व विश्वास से
आने वाले हर पल को?
खुबसूरत बना सकते हैं।?
???Good Morning???



????????????
????????????????
“प्रशंसा” से “पिघलना” मत,
“आलोचना” से “उबलना” मत,
निस्वार्थ भाव से कर्म कर
क्योंकि इस “धरा” का, इस “धरा” पर,
सब “धरा रह जाऐगा
“मनुष्य कितना भी गोरा क्यों ना हो
परंतु उसकी परछाई सदैव काली होती है !
“मैं सर्वश्रेष्ठ हूँ” यह आत्मविश्वास है
लेकिन
“सिर्फ मैं ही सर्वश्रेष्ठ हूँ” यह अहंकार है..
अहंकार से जिनका, मन मैला है ,
करोड़ों की भीड़ में भी, वह अकेला है !
????जय श्री राधे कृष्णा???
???? आपका दिन मंगलमय हो???
????????????









Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: